चूहे की आत्मा – Chuhe ki Aatma, Hindi Story, Story for kids in hindi

यह एक चूहे की कहानी है. चूहे की आत्मा कहानी में एक तांत्रिक ने किसी चूहे को शेर में बदल दिया था. लेकिन वह उस चूहे की आत्मा को नहीं बदल पाया. फिर उस चूहे का क्या हुआ. ये जानने के लिए पढ़िए कहानी चूहे की आत्मा.

यह एक बहुत पुरानी बात है। जब किसी जंगल में एक चूहा रहता था, वह बहुत डरपोक चूहा था. जो बिल्लियों से बहुत डरता था। एक दिन वह चूहा एक तांत्रिक के पास गया और बोला- ‘मुझे बिल्लियों से बहुत डर लगता है। कृपया आप मुझे भी एक बिल्ली बना दें, ताकि मैं उनसे भयभीत न रहूं।’

Also Read – मूंग के दाने – Kahani, Hindi Story, Moral Story in Hindi

तांत्रिक को चूहे पर दया आ गई। तांत्रिक ने उस चूहे को बिल्ली में बदल दिया। कुछ दिन सब कुछ ठीक रहा. लेकिन कुछ दिनों बाद बिल्ली बना चूहा तांत्रिक के पास फिर आया और बोला- ‘अब मुझे कुत्ते बहुत सताते हैं। कृप्या मुझे एक कुत्ता बना दीजिये’. इस बार तांत्रिक ने उसे कुत्ते में बदल दिया।

Also Read – अहंकार – Moral Story in Hindi, Hindi Story, Short Story

कुत्ता बना चूहा कुछ दिन बाद फिर उस तांत्रिक से मिलने आ गया और बोला- ‘मैं जंगल में नहीं जा सकता। मुझे शेर से डर लगता है। आप मुझे शेर में बदल दें तो बड़ी कृपा होगी।’ तांत्रिक ने पिंड छुड़ाने के लिए उसे शेर में बदल दिया। शेर बना चूहा अब बहुत खुश हो गया और वह खुशी – खुशी वहाँ से चला गया.

Also Read – एक बेवकूफ मित्र – Moral Story in Hindi, Hindi Story, Short Story

कुछ दिनों के बाद शेर बना चूहा फिर से तांत्रिक के सामने आ खड़ा हुआ और बोला- ‘जंगल में मैं सबसे ताकतवर हूं, लेकिन मैं शिकारियों के तीरों का सामना नहीं कर सकता। अब मैं क्या करूं?’ बार-बार की शिकायतों से तंग आकर तांत्रिक ने
शेर बने चूहे को फिर से चूहे में बदल दिया, और कहा- ‘तुम्हारा कुछ नहीं हो सकता, क्योंकि तुम्हारे भीतर चूहे की आत्मा है।’

One thought on “चूहे की आत्मा – Chuhe ki Aatma, Hindi Story, Story for kids in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *